Right to Privacy (निजता का अधिकार)- पीडीएफ डाउनलोड

1

संविधान में कहीं नहीं लिखा था कि गोपनीयता का अधिकार है, लेकिन भारत के संविधान में आर्टिकल 21 में लिखा है कि हर व्यक्ति को जीने का और आज़ादी अधिकार है. निजता के अधिकार (Right to Privacy) के सवाल पर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को बड़ा फैसला सुनाया है.

नौ जजों वाली सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने सर्वसम्मति से निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार बताया है.
पीठ में मुख्य न्यायाधीश जे.एस. खेहर, जस्टिस जे. चेलमेश्वर, जस्टिस एस.ए. बोबडे, जस्टिस आर.के. अग्रवाल, जस्टिस आर.एफ़. नरीमन, जस्टिस ए.एम. सप्रे, जस्टिस डी.वाई. चंद्रचूड़, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस एस अब्दुल नज़ीर शामिल हैं.

आज हम आपके साथ निजता (Right to Privacy) का अधिकार से परीक्षा दृष्टि से संबंधित जितने भी महत्वपूर्ण तथ्य हैं, एक पीडीएफ के रूप में शेयर कर रहें हैं. यह पीडीएफ ‘इंजीनियर विनोद एम. नागवंशी’ जी द्वारा TheGKAdda को भेजी गई है. इसका सारा क्रेडिट विनोद जी को जाता है.

आप नीचे दिए गये लिंक से इस फ्री पीडीएफ को डाउनलोड कर सकतें हैं. अगर आपके पास भी कोई पीडीएफ हैं तो [email protected] पर भेज दें.

Right to Privacy (निजता का अधिकार)- पीडीएफ डाउनलोड

अन्य फ्री स्टडी मटेरियल:



1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.